Ad

टिश्यू पेपर बनाने का बिज़नेस कैसे शुरू करें (How to Start Paper Napkin Business in India)

टिश्यू पेपर बनाने का बिज़नेस कैसे शुरू करें  (How to Start Paper Napkin (Tissue Paper) Business in India)





दोस्तों टिशु पेपर यानी नैपकिन बनाने का जो बिजनेस है वह आजकल के समय में बहुत ही उपयोगी है क्योंकि रोजाना बदलते लाइफ़स्टाइल को देखते हुए टिशू पेपर का इस्तेमाल बहुत अधिक किया जाने लगा है दूसरी बात यह है कि इसके इस्तेमाल से पानी का खर्च जो है वह कम हो जाता है कई लोग टिशू पेपर का इस्तेमाल करते नजर आते हैं आमतौर पर अगर देखा जाए तो टिशू पेपर का इस्तेमाल हाथ मुंह साफ करने के लिए किया जाता है और इसका प्रयोग आजकल के समय में रेस्टोरेंट ,होटल ,ढाबा ,ऑफिस ,तथा हॉस्पिटल में किया जाता है |टिशु पेपर बनाने का बिजनेस काफी अच्छा मुनाफा वाला बिजनेस साबित हो सकता है | टिशू पेपर बनाने के व्यापार की शुरुआत बहुत कम लोगों की मदद से शुरू की जा सकती है अर्थात इसमें अधिक श्रमिक की आवश्यकता नहीं होती है यहां पर इस व्यापार से संबंधित सभी आवश्यक जानकारी दी जा रही है जिसे आप पढ़ करके अपना टिशू पेपर या नैपकिन मेकिंग बिज़नेस स्टार्ट कर सकते हैं |



टिशु पेपर बनाने के लिए आवश्यक मटेरियल:-


दोस्तों टिश्यू पेपर बनाने के लिए आवश्यक मटेरियल मुख्य रूप से एक ही है और वह है टिशू पेपर बनाने का पेपर रोल जिसकी आवश्यकता आपको पड़ेगी और उसके बाद में आप उस रोल की मदद से टिशू पेपर बना सकेंगे |



टिशू पेपर बनाने के लिए आवश्यक रॉ मटेरियल का मूल्य:-


दोस्तों पेपर का जो रोल होता है वह कई प्रकार का होता है एक हल्का होता है और दूसरा उससे अच्छी क्वालिटी का होता है ,अगर आप इस पेपर को खरीदेंगे तो पेपर रोल आपको 60 से लेकर ₹80 तक में मिल जाएगा |


टिशु पेपर बनाने की मशीन:-


टिश्यू पेपर मेकिंग मशीन पूर्णतया स्वचालित होती है अर्थात यह बिजली से चलती है इस मशीन को एक बार प्लेन पेपर रोल से संलग्न कर देने के बाद यानी लगा देने के बाद टिशू  पेपर बन के ही बाहर आता है | इस मशीन का मूल्य लगभग ₹4 लाख 50 हजार के आसपास है आप इस मशीन को खरीद करके अपने मन मुताबिक साइज के अनुसार टिशू पेपर बना सकते हैं | वैसे बाजार में बिकने वाले टिशू पेपर 30 बाई 30 का होता है जिसका मूल्य लगभग ₹10 ₹20 और ₹30 भिन्न -भिन्न  प्रकार के पैकेटों  का मूल्य अलग अलग होता है |


पेपर नैपकिन बनाने के लिए आवश्यक स्थान :-


दोस्तों अगर आप इस बिजनेस को शुरू करते हैं तो पेपर नैपकिन की  मशीन जहां पर आप लगाएंगे वहां पर कम से कम 600 वर्ग फीट स्थान की आवश्यकता होती है , मशीन की स्थापना के अतिरिक्त पैकिंग  के लिए आप को कम से कम 100  वर्ग फीट की स्थान की आवश्यकता और होगी | 


टिशू पेपर बनाने का व्यापार स्थापित करने के लिए टोटल खर्च :-


इस व्यवसाय को शुरू करने के लिए आपको शुरू में कम से कम 5 से ₹6 लाख  के बीच में निवेश करना पड़ सकता है , हालांकि बड़े प्लांट की स्थापना के लिए आप और अधिक धन लगा कर इस व्यापार को बड़े पैमाने पर शुरू कर सकते हैं इस पैसे में मशीन ,रा मैटेरियल ,मशीन के लिए वायरिंग एवं अन्य वित्तीय संसाधनों की आवश्यकता की पूर्ति हो जाती है |


टिशू पेपर बनाने की प्रक्रिया :-





टिशु पेपर बहुत ही आसान प्रक्रिया द्वारा बनाया जाता है | पेपर नैपकिन बनाने का बिजनेस एक ही मशीन के द्वारा होता है जिसकी प्रक्रिया नीचे दी जा रही है -


  • सबसे पहले पेपर रोल को मशीन में दिए गए रोलिंग जगह पर सेट करें यहां से पेपर रोल का एक हिस्सा मशीन में लगाया जाएगा | 
  • यदि आपको कलर टिशू पेपर बनाना हो तो आप मशीन में दिए गए कलरिंग स्थान पर मनपसंद कलर डालकर इससे पेपर को जोड़ सकते हैं ,पेपर को किसी तरह का टैग जैसे किसी होटल अथवा रेस्टोरेंट का नाम या किसी प्रकार का लोगो अगर आप बनाना चाहते हैं तो उसी कलर चैनल में रबर का टैग लगा सकते हैं | 
  • यहां से निकालकर पेपर रोल का हिस्सा आगे एम्बॉसिंग के लिए मशीन में एम्बॉसिंग रोल  लगा होता है | एम्बॉसिंग रोल  से गुजरते हुए पेपर रोल एक तरह से पारदर्शी , जैसा कि अक्सर टिशू पेपर होते हैं ,हो जाता है | 
  • यहां से एम्बॉसिंग होने के बाद पेपर मशीन के फोल्डिंग सेक्शन में प्रवेश करता है ,इस सेक्शन में पेपर ,टिशू पेपर की तरह फोल्ड होकर कटने लगता है | 
  • कटिंग के बाद टिशू पेपर पूरी तरह से तैयार हो जाता है |


टिशु पेपर की पैकेजिंग :-

टिशु पेपर बन जाने के बाद में इसके पैकिंग पर विशेष ध्यान देना होता है | दोस्तों पैकिंग के लिए आप अपने पंजीकृत टैग ,लोगो अथवा ट्रेडमार्क का इस्तेमाल कर सकते हैं | अपने ट्रेडमार्क छपे प्लास्टिक पैकेट तैयार करें और प्रत्येक पैकेट में 50 टिशू पेपर डाल कर के एक  पैकेट तैयार कर सकते हैं | अगर आप चाहें तो आप अपनी आवश्यकतानुसार एक पैकेट में 100  पेपर भी रख सकते हैं और इसके बाद में आप उसका मूल्य निर्धारित करके मार्केट में सेल कर सकते हैं |


टिशू पेपर बनाने की व्यापार के लिए आवश्यक लाइसेंस:-


इस व्यापार को शुरू करने के लिए आपको कुछ लाइसेंस लेने पड़ेंगे जो निम्न प्रकार से हैं -

  • इस व्यापार को शुरू करने के लिए आपको सबसे पहले अपने कंपनी का रजिस्ट्रेशन करवाना होगा | 
  • आपको ट्रेड लाइसेंस लेना होगा | 
  • आपको पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड की तरफ से एनओसी सर्टिफिकेट लेना होगा | 
  • इसके बाद में आपको उद्योग आधार पंजीकरण कराना होगा |

टिशू पेपर की मार्केटिंग :-


दोस्तों जैसा कि आप लोग जानते हैं कि आजकल के मार्केट में टिशू पेपर यानी पेपर नैपकिन की डिमांड बहुत अधिक है साफ-सफाई को ध्यान में रखते हुए कई स्थानों पर इसका बहुत अधिक प्रयोग होता है इसकी अच्छी बात यह है कि रिसाइकिलेबल और बायोडिग्रेडेबल वस्तु है यानी वातावरण में किसी भी प्रकार की क्षति नहीं पहुंचाती है | प्रत्येक वर्ष टिशु पेपर की खपत  देश भर में लगभग 12% तक बढ़ रही है ,इसी वजह से टिशू पेपर इंडस्ट्री धीरे धीरे एक बहुत बड़ा रूप ले रहा है और लोग इस बिजनेस में ज्यादा इंटरेस्ट ले रहे हैं और इसके बाद में इस बिजनेस से अच्छा खासा लाभ कमा रहे हैं | अगर आप भी इस बिजनेस को शुरू करना चाहते हैं तो मेरे द्वारा बताए अनुसार आप इस बिजनेस को बड़े ही आसानी से अपने घर पर मशीन को लगा कर के और इस बिजनेस को शुरू कर सकते हैं |

दोस्तों इस बिजनेस को शुरू करने के बाद में आपको मार्केटिंग के लिए आप बड़े - बड़े होटल में संपर्क करें, रेस्टोरेंट में संपर्क करें इसके अलावा आप हॉस्पिटल में संपर्क कर सकते हैं जो विभिन्न प्रकार के  ढ़ाबे होते हैं वहां पर आप संपर्क कर सकते हैं | इसके बाद में एक बार जब आपका माल धीरे-धीरे बिकने लगेगा तो आप लोगों से उनका कांटेक्ट नंबर लीजिये ,आप अपना कांटेक्ट नंबर उनको दीजिए ,धीरे - धीरे वे आपको आर्डर देंगे और आप आर्डर के तौर पर उन्हें माल भेज करके अच्छा खासा मुनाफा कमा सकते हैं |


दोस्तों आपको हमारा यह पोस्ट कैसा लगा हमें Comment में जरूर बताएं और आप हमारे पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ Share करना बिलकुल न भूलें और हमारे Blog पर इसी तरह के नए Business Ideas को पढ़ने के लिए हमारे Blog को Subscribe करें | धन्यवाद

1 comment: