Ad

पेन बनाने का बिज़नेस कैसे शुरू करें (How to Start Pen Manufacturing Business)

पेन बनाने का बिज़नेस



नमस्कार दोस्तों मैं अमित कुमार आप सभी लोगों का स्वागत है हमारे ब्लॉग में दोस्तों आज मैं आप लोगों को पेन बनाने का बिजनेस के बारे में बताने वाला हूं दोस्तों आप इस बिजनेस को कैसे अपने घर पर ही रहकर शुरू कर सकते हैं दोस्तों जैसा कि हम सभी लोग जानते हैं कि हर समय काम आने वाली चीजों में से एक है घर से स्कूल और स्कूल से दफ्तर हर जगह इसकी आवश्यकता होती है बच्चे स्कूल जाते हैं तो उनको पेन की आवश्यकता होती है लोग ऑफिस जाते हैं तो उनको पेन की आवश्यकता होती है कोई दुकानदार है कुछ लिखना पढ़ना होता है तो उसको पेन की आवश्यकता होती है दोस्तों इसका व्यापार बहुत कम पैसे में शुरू किया जा सकता है खासकर बाल पेन का इस्तेमाल लगभग हर क्षेत्रों में किया जाता है | बालपन की सबसे खास बात यह होती है इसकी स्याही जल्द से जल्द सूख जाती है इन दिनों USE AND THROW का भी खूब इस्तेमाल किया जा रहा है USE AND THROW यानी प्रयोग करो और फेंक दो यानी आप बालपन का उद्योग बहुत आसानी से अपने घर में आप शुरू कर सकते हैं तो दोस्तों इसके लिए आपको जो इस पोस्ट में बताने जा रहा हूं उसको आप को पूरा पढ़ना होगा तभी आपको सारी बात समझ में आएगी |


पेन बनाने का व्यापार कैसे शुरू करें 


पेन बनाने के लिए आवश्यक सामग्री

पेन बनाने के लिए जो आवश्यक सामग्री है वह कौन-कौन सी होनी चाहिए बॉल पेन बनाने के लिए निम्नलिखित सामग्रियों की आवश्यकता होती है

  1.  बैरल :- बैरल पेन का वह हिस्सा होता है जिसमें स्याही भरी जाती है यह आपको ₹140 प्रति 250 पीस  में मिल सकता है 
  2. एडाप्टर :- एडाप्टर  बैरल और टिप के बीच का हिस्सा होता है जो कि 4.50 रुपए प्रति  144 पीस मिल जाता है | 
  3. टिप:- टिप पेन का वह हिस्सा होता है जहां से लिखते समय स्याही नियमित रूप से बाहर आती है यह आपको 28 से ₹35 प्रति 144 पीस में मिल सकता है 
  4.  ढ़क्कन :- ढक्कन यह पैन को ढकने के लिए उपयोग किया जाता है इसकी कीमत ₹25 प्रति 100 पीस है 
  5. स्याही :- स्याही यह पेन के लिए सबसे महत्वपूर्ण सामग्री है जो कि 120 से ₹400 प्रति लीटर में मिल सकता है 
पेन बनाने  के लिए आवश्यक सामग्री कहां से खरीदें

पेन बनाने  के लिए आवश्यक SAMAGRI बड़े होलसेल मार्केट में आपको मिल जाएगी या इन्हें आप ONLINE भी PURCHASE कर सकते हैं अगर आप ऑनलाइन PURCHASE करना चाहते हैं तो आप INDIAMART की वेबसाइट पर जाकर के वहां से आप सर्च कर सकते हैं

पेन बनाने के लिए कौन-कौन सी मशीनें लगेंगी   



दोस्तों पेन बनाने के लिए जो मशीनें उपयोग में लाई जाएगी वह मैं आपको बता दूं कि कौन-कौन सी मशीन इसके लिए जरूरी होती है यह उद्योग शुरू करने के लिए कम से कम 200 वर्ग फीट की जगह की आवश्यकता होगी  इस जगह में लगभग 5 महीने बिठाई जाती हैं क्योंकि इस व्यवसाय को शुरू करने के लिए आपको कम से कम 5 महीनों की आवश्यकता होगी जो मशीनें आपको लेना पड़ेगा जिस मशीन की आवश्यकता होगी वह है

  1. पंचिंग मशीन :- दोस्तों पंचिंग मशीन वह मशीन होती है जिससे बैरल में एडाप्टर सेट किया जाता है 
  2. इंक फिलिंग मशीन:- दूसरा मशीन  है इंक फिलिंग मशीन, इंक फिलिंग मशीन की सहायता से बैरल में स्याही भरी जाती है 
  3. टिप फिक्सिंग मशीन:- तीसरा है टिप फिक्सिंग मशीन, टिप फिक्सिंग मशीन की सहायता से पेन के एडाप्टर  में टिप लगाया जाता है जो लिखने में सहायक होती है 
  4. सेंट्रीफ्यूगिंग मशीन :- इसकी सहायता से पेन के अंदर स्याही  भरते हुए रह गए अतिरिक्त हवा को पेन से निकाल दिया जाता है 

पेन का बिज़नेस शुरू करने के लिए कुल लागत

अब दोस्तों पेन बनाने के व्यापार में कुल कितना लागत आएगा दोस्तों अगर आप इस बिजनेस को शुरू करना चाहते हो तो जो मशीनें होंगी उसका जो कुल कीमत होगा वह लगभग ₹25000 होगा यानी आप ₹25000 INVEST करके मशीन PURCHASE करके आप इस छोटे से व्यवसाय को अपने घर पर शुरू कर सकते हैं दोस्तों उपरोक्त सभी चीजों को लेकर पहली बार PEN बनाने के व्यापार को स्थापित करने के लिए 30 से ₹40000 तक लग सकते हैं ₹40000 में आपका ₹25000 का मशीन हो गया और इसके अलावा आप जो RAW MATERIALS पेन बनाने के लिए खरीदेंगे वह हो गया, एक बार मशीन बैठा लिया जाए तो कम से कम पैसे लगाकर यह  व्यापार चलाया जा सकता है इसके अलावा यदि आप व्यापार शुरू करना चाहते हैं तो इसके लिए AUTOMATIC MACHINE  की आवश्यकता होती है जो कि आपको लगभग ₹4 लाख  में मिल सकता है इसके लिए कुल लागत इससे ज्यादा भी हो सकती हैं


पेन बनाने की प्रक्रिया

पेन बनाने की प्रक्रिया आसान और अल्प सामायिक है यहां इस प्रक्रिया का पूर्ण विवरण दिया जा रहा है जिसे आप पढ़कर अपना व्यवसाय शुरू कर सकते हैं सबसे पहले बैरल को पंचिंग मशीन में लगाना होता है इस मशीन में पहले से एडाप्टर  लगे हुए होते हैं बैरल एडाप्टर को देखते हुए सही जगह लगा कर पंच करते ही बैरल में एडाप्टर सेट हो जाता है एडाप्टर सेट हो जाने के बाद बैरल में स्याही भरने की प्रक्रिया आती है स्याही भरने के लिए फिलिंग मशीन का इस्तेमाल होता है फिलिंग मशीन में सबसे पहले स्याही भरी जाती है स्याही  भरते समय इस बात का ध्यान रखना जरूरी है कि स्याही बैरल की साइज़ के अनुसार भरी जाए अधिक भरने से बाहर भी आ सकती है जिससे पेन की QUALITY पर भी असर पड़ सकता है इसके बाद  बैरल की ऊपरी छेद  पर हाथ लगा कर रखें फिर उसे टिप फिक्सिंग मशीन में लगाया जाता है इस मशीन की सहायता से स्याही भरे बैरेल में टिप लगाया जाता है इसके बाद यह बैरल पेन में बदल जाता है इसके बाद इस पेन को सेण्ट्रीफुगिन्ग मशीन में डाला जाता है जिसके अंदर की अतिरिक्त हवा बाहर निकल जाए इसका इस्तेमाल लिखने के लिए आराम से किया जा सकता है इसी तरह आप मशीनों की मदद से अधिक संख्या में पेन बना सकते हैं और अपने ब्रांड को बाजार में उतार सकते हैं


पेन बनाने की व्यापार की मार्केटिंग कैसे करें

बाजार में कई छोटी बड़ी कंपनियां व्यवसाय कर रही हैं ऐसे में अगर आप अपने व्यवसाय को बढ़ाना चाहते हैं कुछ आगे की तरफ ले जाना चाहते हैं तो सबसे पहले आप को ध्यान में रखना होगा कि जो पेन है उसकी क्वालिटी आपको बेहतरीन रखनी है दोस्तों क्वालिटी बनाए रखने के लिए सबसे पहले आपको पेन की स्याही को बेहतर क्वॉलिटी कर रखना होगा यानी थोड़ा सा महंगा अगर आपको मिलता है तो भी ठीक है क्योंकि अगर आपका सामान अच्छा होगा सही होगा तो बिकने  में कोई भी परेशानी नहीं होगी इसके साथ-साथ आप जो पेन बनाने के लिए टिप खरीदेंगे उसकी भी QUALITY अच्छी होनी चाहिए ताकि जब लोग लिखें तो उसमें कोई रुकावट ना हो अपने ब्रांड को PROMOTE  करने के लिए छोटे बड़े पोस्टर, होर्डिंग आप जगह जगह लगा सकते हैं आप अपने ब्रांड को बेचने के लिए मार्केटिंग करने के लिए अपने शहर के जो कॉपी किताब की दुकानें होती हैं आप उनसे संपर्क कर सकते हैं , जगह-जगह पर अपने ब्रांड की होल्डिंग लगवाएं ताकि अधिक से अधिक लोगों की नजर आप  के ब्रांड पर पढ़ सके


पेन की पैकेजिंग कैसे करें



पैकेजिंग करते समय आप ऐसे पैकेट तैयार करें जो आकर्षक दिखाई दे इसका मतलब यह है कि 5 की कीमत पर एक अधिक पेन  पैकेट में डाल दें यानी 5 की जगह 6 पेन  आप उसमें डालें और आपको कीमत  लेना है सिर्फ 5 पेन  का ,इस से ग्राहक आपके ब्रांड की तरफ आकर्षित भी होगा और आपका ब्रांड आसानी से बिक भी जायेगा आमतौर पर बेचने  के लिए 5 या 10 के पैकेट बनाए जा सकते हैं इसे आप फुटकर में भी बेंच  सकते हैं


पेन बनाने के व्यापार का पंजीकरण

सबसे पहले व्यापार शुरू करें और जब आपका व्यवसाय तेजी से चलने लगे तो आप अपने ब्रांड का नाम देकर अपने ब्रांड का पंजीकरण करा सकते हैं आप अपनी कंपनी का पंजीकरण LLP, ओपीसी या प्राइवेट लिमिटेड के अंतर्गत करा सकते हैं आपको अपने लोकल अथॉरिटी से ट्रेड लाइसेंस लेने की आवश्यकता होगी  कंपनी के नाम का CURRENT BANK ACCOUNT और PAN CARD  भी होना बहुत ही जरूरी है इसके अलावा आपको POLUTION CONTROL BOARD से एक लाइसेंस लेना पड़ेगा जो कि इस व्यापार के लिए बहुत ही जरूरी है

तो दोस्तों आशा करता हूं कि आपको हमारा यह पोस्ट अच्छा लगा होगा और आपको इस पोस्ट से कुछ जानकारी जरूर प्राप्त हुई होगी अगर इस पोस्ट से आपको कुछ जानकारी प्राप्त हुई हो तो इस पोस्ट को अपने FRIENDS के साथ SHARE  कर सकते हो अगर आपके मन में कोई सवाल या सुझाव है तो आप हमें कमेंट कर के भी बता सकते हैं धन्यवाद |

No comments